Theog, Madhan Movement (ठियोग, मधान आंदोलन) - Himachal Pradesh General Knowledge

In our previous posts, we talked about Mandi Conspiracy, Suket Satyagraha and Dhami Tragedy

Today we discuss about Theog, Madhan Movement a freedom struggle to the statehood of Himachal Pradesh.

                                
ठियोग, मधान आंदोलन (Theog, Madhan Movement)

सन 1926 - 28 में इन रियासतों में जन आंदोलन शुरू हुआ ! यहाँ आंदोलन को कुचलने के लिए 'बलूची' और 'जेहलमी' पुलिस (Jehlemi Police ) को तैनात किया गया ! 'मियां खड़क सिंह' (Mian Khadak Singh) ने ठियोग आंदोलन को नया जन्म दिया ! ऐसे ही आंदोलन अन्य क्षेत्रों जैसे मधान, कुमारसैन, घणाहट्टी तथा घुण्ड में जारी रहे ! इन आंदोलनों से ठियोग के लोगों को नई प्रेरणा मिली और उत्साह बना रहा ! 

15 अगस्त 1947 को भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति के साथ ही प्रजा मंडल ने ठियोग राज्य को अपने अधीन कर वहां स्वतंत्र सरकार की स्थापना की और श्री वैद सूरत सिंह (Vaid Surat Singh) को इसका मुख्यमंत्री और डॉ यशवंत सिंह परमार (Dr. Yashwant Singh Parmar) को इसका सलाहकार बनाया गया ! देवी दास (Devi Das) को सचिव बनाया गया !   


Kindly point out the mistakes, if any in the comment section.

Happy Reading!




                                The Royal Palace of Theog Kingdom

Other articles you might be interested in: Brief History of Himachal PradeshSolved Paper of HAS-2014
Share on Google Plus

Author: Karun Bharmoria

    Blogger Comment

0 comments:

Post a Comment

Popular Posts